फिंच ने इतिहास का सबसे तेज शतक ठोक आस्ट्रेलिया को दिलाई जीत

Aaron_Finchसाउथैम्पटन। एरॉन फिंच (156) की ऎतिहासिक पारी की बदौलत आस्टे्रलिया ने इंग्लैंड दौरे पर पहली जीत दर्ज की। उसने गुरूवार को रोज बाउल मैदान पर खेले गए पहले ट्वेंटी-20 मैच में मेजबान टीम को 39 रनों से पराजित किया। पांच मैचों की एशेज श्रृंखला 0-3 से गंवाने के बाद आस्टे्रलिया को इंग्लैंड में पहली जीत मिली है। इस जीत के हीरो रहे फिंच, जिन्होंने मात्र 63 गेंदों पर 11 चौकों और 14 छक्कों की मदद से अंतर्राष्ट्रीय ट्वेंटी-20 मैचों की सबसे ब़डी पारी खेली।
फिंच ने अपनी इस पारी के दौरान ट्वेंटी-20 मैचों में सबसे अधिक 13 छक्के लगाने के रिचर्ड लेवी का रिकार्ड ध्वस्त कर दिया। लेवी ने 2012 में न्यूजीलैंड के खिलाफ 117 रनों की नाबाद पारी के दौरान यह कारनामा किया था। साथ ही फिंच ने ट्वेंटी-20 मैचों में सबसे ब़डी पारी खेलने के ब्रेंडन मैक्लम (123) के रिकार्ड को भी पीछे छो़डा। मैक्लम ने 2012 में ही बांग्लादेश के खिलाफ यह पारी खेली थी।
बहरहाल, फिंच के इस शतक की बदौलत आस्टे्रलिया ने टॉस हारने के बाद पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 20 ओवरों मे 248 रन बनाए। इसमें शेन वॉटसन के भी 37 रन शामिल हैं। मैथ्यू वेड 15 रनों पर नाबाद लौटे जबकि शॉन मार्श ने 28 रन बनाए। इंग्लैंड की ओर से जेड डर्नबाक ने 34 रन देकर तीन विकेट लिए। जवाब में खेलने उतरी इंग्लिश टीम ने हार नहीं मानी और 20 ओवरों में छह विकेट पर 209 रन बना लिए। जोए रूट 90 रनों पर नाबाद लौटे।
रूट ने 49 गेंदों पर 13 चौके और एक छक्का लगाया। इसके अलावा रवि बोपारा ने 45 और माइकल लम्ब ने 22 रनौं का योगदान दिया। विकेटकीपर बल्लेबाज जोस बटलर ने 27 रनों का योगदान दिया। रूट ने ट्वेंटी-20 अंतर्राष्ट्रीय मैचों में अपनी अब तक की सबसे ब़डी पारी खेली लेकिन वह अपनी टीम को जीत की दहलीज तक नहीं पहुंचा सके। मेहमान टीम दो मैचों की श्रृंखला में 1-0 से आगे हो गई है।

Leave a Reply